Top 100 zindagi shayari in hindi


zindagi shayari in hindi

इस जिन्दगी का ही तो सब कहा सुना है 🙄,
कागजों 📰पर जो मैं लिखता ✍️हूं,
कुछ शब्द समझ कर पढ़ते है कुछ दर्द 😑 समझते रहते हैं….

Is jindagi ka hi to sab kaha suna hai🙄,
Kagajon📰par jo main likhta ✍️hun,
Kuch shabd samajh kar padhte hai kuch dard😑 samajhte rahte hai…..




कहते हैं प्यार ❣️जिन्दगी 🤘 बदल देता है,
सच ही है 😑…
मैंने भी किसी 😑बेवफ़ा से प्यार 💖किया था,
और उसने मेरी जिन्दगी 😞बदल दी…!!

Kahte hai pyar ❣️jindagi 🤘 badal deta hai,
Sach hi hai😑…..
Mene bhi kisi😑bewafa se pyar💖kiya tha,
Or usne meri zindagi 😞 badal di….!!




ख्वाहिशों🤗ने ही तो जिंदा रखा है अब तक……
वरना जिन्दगी 🤘 के दागों ने तो हमें……
कबका मार 😞ही दिया था…!!

Khwahisho🤗 ne hi to jinda rakha hai ab tak….
Varna jindagi 🤘 ke Dagon ne to hume….
Kabka maar😞 hi diya tha…!!




ऐ जिन्दगी काश🙄 तुझे मुड़ के देख पाता,
कुछ पन्ने📝 थे भीगे से उसे बदल आता,
कुछ यादों😴 को मिटा आता कुछ पलों को जोड़ आता,
ऐ जिन्दगी काश तुझे🙄 मुड़ के देख पाता l
कुछ ग़मों😌 की स्याही ✒️को मिटा आता,
कुछ खुशी 🎉के पल जोड़ आता,
कुछ फैसले थे जिन्दगी के शायद🤐 उसे बदल आता,
ऐ जिन्दगी काश तुझे 🙄 मुड़ के देख पाता l


Ae zindagi shayari in hindi


Ae jindagi kash🙄tujhe mud ke dekh pata,
Kuch panne📝the bheege se use badal aata,
Kuch yadon😴 ko mita aata kuch palon ko jod aata,
Ae jindagi kash 🙄 tujhe mud ke dekh pata…!!
Kuch gamo😌 ki syahi✒️ ko mita aata,
Kuch khushi🎉ke pal jod aata,
Kuch faisle the jindagi shayad 🤐use badal aata,
Ae jindagi kash tujhe 🙄mud ke dekh pata…!!




जिन्दगी😎 उस चाँद 🌒की तरह हो गयी है,
जो दिखता है तो बहुत खूबसूरत 💞 लेकिन है बिल्कुल अकेला 😑…!!

Jindagi 😎 us chand 🌒ki tarah ho gayi hai,
Jo dikhta to bahut khubsurat 💞 hai lekin hai bilkul akela😑…!!




वो कागज📰 ही तो मेरा साथी 🤝है,
जो हर जज्बात समझता😚 है,
मेरे दिल ♥️की पिघलन में,
शब्दों की 🌏 दुनिया बनता है l

Vo kagaj 📰hi to mera sathi🤝hai,
Jo har jajbat samajhta 😚hai,
Mere dil♥️ki pighlan me,
Shabdo ki duniya 🌎 banta hai…!!




जिन्दगी का पता नहीं 🤞,
साँसों का पता नहीं 🤞,
जीने का पता नहीं 🤞,
अपने आप का पता नहीं 😴,
तेरी यादों के साथ ये मंजर है,
अगर तू साथ 🤝 होता तो क्या होता मेरा ♥️…..
Jindagi ka pata nahi🤞,
Sanson ka pata nahi🤞,
Jeene ka pata nahi🤞,
Apne ap ka pata nahi😴,
Teri yadon ke sath ye manjar hai,
Agar tu sath🤝 hota to kya hota mera♥️….




काश 😑 के ये जिन्दगी तेरी जुल्फों की छाँव होती,
और तेरी बाहों की पनाहों में गुजरते ही हर रोज 🌃 शाम होती l

Kash😑ke ye jindagi teri julfon ki chhav hoti,
Or teri bahon ki panaho me gujarte hi har roj sham🌃hoti…!!




शायरी हकीकत में आँखों 👀 से बहते पानी 💦का ही तो दर्द 😑 है,
बिखरते शब्दों के साथ कागज 📰 को गीला करती है…!!

Shayri hakikat me aankho 👀 se bahte pani💦ka hi to dard😑hai,
Bikharte Shabdo ke sath kagaj 📰 ko geela karti hai…!!




अपनी मर्जी से दो ✌️ कदम चलने 🚶तो दे ऐ जिन्दगी 😎,
हम तो तेरे कहने 😐पर बरसों चले हैं 🤐…!!

Apni marji se do ✌️ kadam chalne 🚶to de ae jindagi 😎,
Ham to tere kahne 😑par barso chale hai🤐….!




बस एक 👆 तू ही नहीं जिंदगानी 😉मेरी समां,
और भी है मेरे पास, कभी 🙄 जो ख्वाब देखे थे तेरी खातिर😊,
अब तलक महफूज है सीने में 🤘 मेरे… 😑

Bas ek 👆tu hi nahi jindgani😉 meri sama,
Or bhi hai mere pass, kabhi 🙄 jo khwab dekhe the teri khatir😊,
Ab talak mahfooj hai seene🤘 me mere… 😑




अनजानी राहों ☄️ पर,
बिन कुछ सोचे 🤔, बिन कुछ कहे🤐, निकल जाने का नाम 😉 है जिन्दगी,
यूँ तो हमसफर बहुत होते हैं 😑,
लेकिन अजनबियों🤞से मुलाकात का नाम 😉 है जिन्दगी,
मौत तो रोज दरवाजे पर दस्तक देती है 🙄,
लेकिन खिड़की से भाग जाने का नाम 😉 है जिन्दगी 🤘…!!

Anjani rahon ☄️ par,
Bin kuch soche🤔bin kuch kahe 🤐, nikal jane ka nam hai jindagi,
Yun to hamsafar bahut hote hai 😑,
Lekin ajnabiyon 🤞se mulakat ka nam😉 hai jindagi,
Mot to roj darvaje par dastak deti hai🙄,
Lekin khidki se bhag jane ka nam😉 hai jindagi 🤘..!!




कितनी भी वजह दे तू सुकून 😑 कि ऐ जिन्दगी,
इस दिल 💕 को तो बेचैनी में ही मजा आता है 🙄,
सुकून को कागज 📰 पर उतारने में वो मजा कहाँ,
जो अपनी बेचैनी को लिखने ✍️ में आता है.!!

Kitni bhi wajah de tu sukoon 😑 ki aye jindagi,
Is dil 💕 ko to becheni me hi maja aata hai🙄,
Sukoon ko kagaj 📰 par utarne me vo maja kaha,
Jo apni becheni ko likhne ✍️me aata hai.!!




जिन्दगी स्याही ✒️ पन्नो 📃पर लिखी ✍️ इबादत है,
उजाले 🌟सब पढ़ लेते हैं,
अंधेरे 🌚सिर्फ उस कहानी के हिस्से आए हैं..!!

Jindagi syahi ✒️ panno 📃par likhi ✍️ ibadat hai,
Ujale🌟sab padh lete hai,
Andhere🌚sirf us kahani ke hisse aye hai…!!




बड़ा लम्बा वक़्त 🕗 लगा दिया तूने लौट कर आने में 🤘,
आलम तो देख 👀 जिन्दगी 🤘 के इस इत्तेफाक का,
तेरा आना है 🙄 और मेरा चारपाई से रुकसत😖 होना है…….

Bada lamba waqt🕗laga diya tune laut kar aane me🤘,
Aalam to dekh👀jindagi🤘 🤘 ke is ittefaq ka,
Tera aana hai🙄or mera charpai se ruksat😖hona hai…..




जिन्दगी 😎 आज थोड़ी खूबसूरत 💞 लग रही है,
अरसे बाद हवाओं में प्यार 🤗 का रंग घुला है शायद,
आंखों 👀 से कुछ धुआँ हटा है 🙄 शायद,
ऐ जिन्दगी! तू हमेशा🤘 यूं ही रहा कर न,
थोड़ी साफ🤗 सी, थोड़ी सुलझी🤘 सी,
थोड़ी खट्टी 😋सी, थोड़ी मीठी😋 सी,
हर रोज के तीखे 🌶️जायके अब स्वाद नहीं देते….!!

Jindagi 😎aaj thodi khubsurat 💞lag rahi hai,
Arse bad hawaon me pyar🤗ka rang ghula hai shayad,
Aankhon👀se kuch dhuan hata hai🙄shayad,
Ae jindagi! Tu hamesha 🤘yun hi raha kar na,
Thodi saf🤗si, thodi suljhi🤘si,
Thodi khatti😋si, thodi meethi😋si,
Har roj ke teekhe🌶️jayke ab swad nahi dete….!!




जिन्दगी के प्याले 🍸में,
दर्द 😖भरकर पिया 🍸है,
मैंने तुझको 🤗…. हाँ बस
तुझको ही जिया है ♥️♥️…

Jindagi ke pyale 🍸me,
Dard😖bharkar piya🍸hai,
Mene tujhako 🤗… Ha bas
Tujhko hi jiya hai♥️♥️…….




कुछ अपने बारे में 🤘 कुछ उनके बारे मे 🤘,
ये लिखा ✍️है मैंने कुछ दिल ♥️के बारे में,
इश्क़ के बारे में, प्यार के बारे में 😍,
ये लिखा ✍️ है मैंने उस इंतजार 😑के बारे में l

Kuch apne bare me🤘kuch unke bare me🤘,
Ye likha✍️hai mene kuch dil♥️ke bare me,
Ishq ke bare me, pyar ke bare me😍,
Ye likha ✍️ hai mene us intjar 😑ke bare me…!!




मैंने जिंदा इंसान 👨 को हर पल मरते देखा है,
और मौत 💤 को शौक से, जिंदा लाशों के कंधे चढ़ते देखा है 👀,
उम्र गुजर जाती है 🙄 इंसान की जिन्दगी से लड़ते लड़ते 😖,
मैंने मौत को हर जंग जीत 🤗, वक़्त 🕗 से बढ़ते देखा है,
ये जिन्दगी 🤘 भी मौत का सवाल है हर वक़्त,
मैंने इंसान 👨 को वक़्त के साथ ढलते देखा👀है..!!

Mene jinda insan👨ko har pal marte dekha hai,
Or maut💤ko shok se, jinda lashon ke kandhe chadhte dekha hai👀,
Umar gujar jati hai🙄insan ki jindagi se ladte ladte😖,
Mene maut ko har jung jeet🤗, waqt 🕗 se badhte dekha hai,
Ye jindagi 🤘 bhi maut ka saval hai har waqt,
Mene insan 👨 ko waqt ke sath dhalte dekha👀hai…!!




कहाँ गुमनाम🙄 है तू जिन्दगी,
कहाँ🙄 मिलेगी तू जिन्दगी,
मौत से पहले है🤐 जिन्दगी,
या खाक है मौत💤 के बाद जिन्दगी…..!!

Kaha gumnam🙄 hai tu jindagi,
Kaha 🙄milegi tu jindagi,
Maut se pahle hai🤐jindagi,
Ya khak hai maut 💤ke bad jindagi….!!




मैं चाहती हूं लिखूं ✍️हाल ऐ जिंदगानी पर,
जरा सा खुद पे 😐जरा दिल 💕 की पेशमानी पर,
लिखूं ✍️ फिराक के लम्हों 💫 की दास्तान मैं कभी
लिखूं ✍️ जरा सा मुहब्बत की नागहानि पर.!!

Me chahti hu likhu✍️hal E-jindgani par,
Jara sa khud pe😐jara dil 💕 ki peshmani par,
Likhu ✍️firak ke lamhon💫ki dastan me kabhi,
Likhu ✍️ jara sa muhabbat ki naghani par.!!




कुछ तो बता ऐ जिन्दगी तेरा पता…
ना साथ – साथ 🤝, वक़्त 🕗लेकर चल सकते हैं,
ना वक़्त के साथ 🤝 चल🚶 सकते हैं l
वक़्त 🕗 से लड़⚔️ तो सब लेते हैं,
पर वक़्त को पकड़ ✊नहीं सकते हैं l

Kuch to bata jindagi tera pata….
Na sath-sath🤝, waqt🕗lekar chal sakte hai,
Na waqt ke satg🤝chal🚶sakte hai…!!
Waqt🕗 se lad⚔️ to sab lete hai,
Par waqt ko pakad ✊🤗nahi sakte…!!




जिन्दगी जाम 🍷बना रही है,
जीने के नाम 😉,
आइये पी😋 के देखते हैं,
इस जीने के जाम को 🍷,
आखिर😴 पता तो चले,
कितना स्वाद है जिन्दगी में 🤘….!!

Jindagi jam🍷bana rahi hai,
Jeene ke naam😉,
Aaiye pee😋 ke dekhte hai,
Is jeene ke jam ko🍷,,
Aakhir 😴pata to chale,
Kitna swad hai jindagi me🤘…!!




zindagi shayari in hindi



zindagi shayari in hindiबहुत साथ 🤝 दिया है तूने ऐ जिन्दगी 😑,
अपनों के साथ वक़्त 🕗 बिताने के लिए,
अब कुछ पल मेरे 🤞,
मुझे भी तो दे 😑,
ख़ुद को जानने के लिए ♥️…!!

Bahut sath🤝diya hai tune ae jindagi 😑,
Apno ke sath waqt🕗bitane ke liye,
Ab kuch pal mere🤞,
Mujhe bhi to de😑,
Khud ko janne ke liye ♥️…!!




बर्बाद 🙄करना था तो किसी और तरीके से करते,
जिन्दगी बन कर 😴…..जिंदगी😑 से…
जिन्दगी ही छीन😔 ली तुमने…..

Barbad 🙄karna tha to kisi or tarike se karte,
Jindagi ban kar 😴….. Jindagi se 😑…
Jindagi hi chhin😔 li tume…..




एक 👆 पल की ये बात नहीं 🤞,
दो पल का ये साथ 🤝 नहीं,
कहने को तो जिन्दगी 🤘 जन्नत से प्यारी है,
पर वो साथ 🤝 ही क्या जिसने तेरा हाथ 🖐️ नहीं.!!

Ek 👆 pal ki ye bat nahi🤞,
Do pal ka ye sath 🤝 nahi,
Kahne  ko to ye jindagi 🤘 jannat se pyari hai,
Par vo sath 🤝 hi kya jisme tera hath 🖐️nahi.!!




तू दूर होकर भी पास मेरे 🤞 है कहीं,
तेरी खुश्बू की महक 😘आज भी मेरे साथ 🤝 है कहीं,
तेरी 😊 मुस्कुराहट ही काफी है जीने के लिए जिन्दगी 🤘,
तेरी खामोशियां😑आज भी मुँह में है कहीं,
तेरी खुश्बू की महक 😘 आज भी मुझमें है कहीं.!!

Tu dur hokar bhi pas mere🤞hai kahi,
Teri khushbu ki mahak😘aaj bhi mere sath 🤝 hai kahi,
Teri muskurahat 😊hi kafi hai jeene ke liye jindagi 🤘,
Teri khamoshiyan 😑aaj bhi muh me hai kahi,
Teri khushbu ki mahak😘aaj bhi mujhme hai kahi.!!




जिन्दगी 😎 की कहानी भी कुछ इस तरह निराली है,
कभी रुलाती 😭 है तो कभी हंसती है 😊,
और इसी तरह खेल खेल 😑में,
इंसान 👨 को बहुत कुछ सिखा जाती है..!!

Jindagi 😎 ki kahani bhi kuch is tarah nirali hai,
Kabhi rulati 😭hai to kabhi hasati😊hai,
Or isi tarah khel khel😑 me,
Insan 👨 ko bahut kuch sikha jati hai…!!




कौन ठहरा है इस जहां में 🤘,
कहाँ रुक हम ही पाएंगे 🤘,
मुकम्मल उम्र होगी जब 🤘,
तो चले हम भी जाएंगे 🤘….

Kon thahra hai is jahan me🤘,
Kaha ruk hum hi payenge 🤘,
Mukammal umar hogi jab🤘,
To chale hum bhi jayenge🤘…!!




जिन्दगी 😎 लगती है कभी रूठी सहेली सी मुझे,
मुँह फुला 😶के अक्सर बस अकड़ 😐 के बैठ जाती है,
एक 👆 झप्पी देके मनाओ उसे 🤗तो फिर मुस्कुरा 😊 उठती है.!!

Jindagi 😎 lagti hai kabhi ruthi saheli si mujhe,
Muh fula 😶ke aksar bad akad😐ke Beth jati hai,
Ek 👆 jhappi deke manao use🤗to fir muskura😊 uthti hai.!!




अपनी जरूरी – गैर जरूरी बात 🙄,
हर मुकम्मल 🤞जज्बात रखती है,
तेरे पन्नो 📃 पर जगह नहीं 🤞 मिलती,
जमी पर ही लिखती ✍️ हूं,
आँखों 👀 से तुझे चाहती हूं ऐ जिन्दगी,
घूँट घूँट तेरी मिठास 😘पीती हूं.!!

Apni jaruri- gairjaruri bat🙄,
Har Mukammal 🤞jajbat rakhti hai,
Tere panno 📃 par jagah nahi 🤞 milti,
Zamee par hi likhti ✍️ hu,
Aankho 👀 se tujhe chahti hu E-jindagi,
Ghunt ghunt teri mithas😘 peeti hu.!!




मेरे 🤞 जीवन का हर एक 👆 पल सूना है तेरे बिना,
दिल ♥️का हर कोना खाली है तेरे बिना 😒,
मेरी कोई मंजिल नहीं 🤞 है तेरे बिना,
मेरा कोई सपना नहीं 🤞 है तेरे बिना,
तू है तो ये सांसें है 😊,
सांसें हैं 😚तो जिन्दगी 🤘 है.!!

Mere 🤞jeevan ka har ek 👆 pal soona hai tere bina,
Dil ♥️ka har kona khali hai tere bina😒,
Meri koi manjil nahi🤞 hai tere bina,
Mera koi sapna nahi 🤞 hai tere bina,
Tu hai to ye sansen hai😊,
Sansen hai😚 to jindagi🤘 hai.!!




आओ देखें 👁️आओ झांके,
अपने मन 😘के अंदर,
वहां छिपा हुआ है,
खुशियों का एक 👆 समंदर,
हुनर ग़र ये सीख जाओगे,
तो जिन्दगी 🤘 की जंग जीत🤗 जाओगे…!!

Aao dekhe 👁️aao jhanke,
Apne man😘ke andar,
Vaha chhipa hua hai,
Khushiyon ka ek 👆 samandar,
Hunar gar ye seekh jaoge,
To jindagi 🤘 ki jung jeet 🤗jaoge…!!




जब किस्से…. रातों 🌛को जिन्दगी सुनाती है,
तब नींद 😑नहीं आती है,
ना आती हैं कोई परियां 👼,
और ना ही कोई ख्वाब,
बस कुछ यादें 😴और सिरहाने खड़े होते कई सवाल..??

Jab kisse…. Rato 🌛ko jindagi sunati hai,
Tab neend😑 nahi aati hai,
Na aati hai koi pariyan 👼,
Or na hi koi khwab,
Bas kuch yaden 😴or sirhane khade hote kai sawal….??




मेरी कलम ✏️खामोश 😑 नहीं हुई है साहेब,
बस स्याही ✒️ का रंग बदल रहा है,
शफफ🔀 में अब रँग चटक बेशुमार 😍होंगे…!!

Meri kalam✏️khamosh😑 nahi hui hai saheb,
Bas syahi✒️ka rang badal raha hai,
Shafaf 🔀me ab rang chatak beshumar😍 honge…..!!




खो सा गया है सुकून 😑, जिन्दगी की रफ्तार में 🤞,
अब कहाँ वो ठंडी😍 हवा के झोंके,
कहाँ वो हरे पत्तों 🌿की छाँव,
अब कहाँ वो सुकून 😑 जिन्दगी की रफ्तार में 🤞….!!

Kho sa gaya hai sukoon😑, jindagi ki raftar me🤞,
Ab Kaha vo thandi😍hawa ke jhoke,
Kaha vo hare patton 🌿ki chhav,
Ab kaha vo sukoon😑jindagi ki raftar me 🤞….!!




मेरी☺️ जिंदगी शायद उन्ही की गुलाम🎠 होगी,
कि मेरे अक्स😇 में गिरती वो एक 🌃 शाम होगी,
मेरा साया 👥पड़ेगा जब जिधर जैसे,
वो मेरी तकदीर की लिखी✍️ कोई शाम होगी..!!

Meri ☺️jindagi shayad unhi ki gulam 🎠hogi,
Ki mere aks😇 me girti vo ek sham🌃hogi,
Mera saya 👥padega jab jidhar jese,
Vo meri takdeer ki likhi ✍️koi sham hogi…!!




बस चला 🚶 मैं जा रहा हूँ, यूँ ही जिन्दगी 🤘 की रफ्तार के साथ,
कि क्या पता किसी 😑 पल मे कोई मंजिल या कुछ खुशियां 😆 ही पा लूँ,
फिर क्या खबर थी यार 😑,की
जिन्दगी 🤘 की रफ्तार के साथ चलने 🚶 के रास्ते तो काफी
हैं पर ‘मंजिलें ‘नहीं 🤞…!!

Bas chala 🚶me ja raha hun, yun hi jindagi 🤘 ki raftar ke sath,
Ki kya pata kisi😑pal me koi manjil ya kuch khushiyan😆hi pa lun,
Fir kya khabar thi yar😑, ki
Jindagi 🤘ki raftar ke sath chalne🚶ke raste to kafi hai par ‘Manjilen’ nahi 🤞..!!




मेरी ☺️ जिंदगी में आकर कुछ यूं रोशन किया,
जो आज तक पड़ी थी अंधेरे 🌚 में
उसे एक नया 😎 रुख दिया,
ना 🤞 कोई मकसद था जीने का, उसे एक 👆 मक़सद दिया 😎,
मेरी अंधेरों 🌚में पड़ी जिन्दगी को तूने रोशन किया.!!




Meri ☺️ jindagi me aakar kuch yun roshan kiya,
Jo aaj tak padi thi andhere🌚me
Use ek naya rukh 😎diya,
Na 🤞 koi maksad tha jeene ka,
Use ek 👆 maksad diya😎,
Meri andheron 🌚me padi jindagi ko tune Roshan kiya.!!




कायर वो नहीं 🤞 जो मौत 💤 से डरता है,
बल्कि असली कायर 🤐वो होता है जो,
जिन्दगी 🤘 की उलझनों से डर कर 😖मौत को गले लगाता है..!!

Kayar vo nahi🤞 jo maut💤se darta hai,
Balki asli Kayar 🤐vo hota hai jo,
Jindagi 🤘 ki uljhano se darkar 😖maut ko gale lagata hai..!!




हद🙄 हो गयी,
गम 😔 और उदासी 😔से
अब निकलते हैं 🤐….
रूमानियत 🤗के मुँह लगते हैं,
नमक थोड़ा सा चखते😋हैं,
जिन्दगी 🤘 कुछ तुम्हें परखते हैं ♥️…

Had🙄ho gayi,
Gam 😔 or udasi😔se
Ab nikalte hai🤐….
Rumaniyat🤗ke muh lagte hai,
Namak thoda sa chakhte😋hai,
Jindagi 🤘 kuch tumhe parakhte hai♥️….




कभी ख्याल तो कभी ख्वाब है जिन्दगी 🤘,
कभी सोई सी तो कभी खिला गुलाब 🌹है जिन्दगी,
हजारों मुश्किलें 😑खड़ी हों चाहे इसके सफर में,
आई आवाज दिल 💕 से,
फिर भी लाजवाब 😎 है जिन्दगी 🤘…!!

Kabhi khyal to kabhi khwab hai jindagi 🤘,
Kabhi soi si to kabhi khila gulab 🌹hai jindagi,
Hajaron muskilen khadi ho chahe iske safar me,
Aayi aawaj dil 💕se,
Fir bhi lajavab 😎hai jindagi 🤘….!!




भाग🏇 रही है जिन्दगी ना जाने किसकी तलाश में 🤘,
सबके दिल 💕 में छुपा हुआ एक 👆 सहरा सा कही है,
सब है यहां अजनबी 🙄दिल से एक दूजे के,
पर कहने को यूँ 😑साथ 🤝 चलते हमसफर कई है ♥️…!!

Bhag🏇 rahi hai jindagi  na jane kiski talash me🤘,
Sabke dil💕me chhupa hua ek 👆 sahra sa kahi hai,
Sab hai yahan ajnabi🙄dil se ek duje ke,
Par kahne ko yun😑sath🤝chalte hamasafar kai hai♥️…!!




वो कहते हैं वक़्त 🕗 के साथ 🤝 इंसान 👨 बदल जाता है,
मैं कहता हूँ साहब इंसान 👨 तो वही है जरूरतें बदल जाती हैं 🤐…!!

Vo kahte hai waqt 🕗 ke sath 🤝 insan 👨badal jata hai,
Main kahta hun sahab insan 👨 to wahi hai jarurate badal jati hai 🤐….!!




ना मैं हूँ ख्वाबों🤗 का मुसाफिर, ना अनदेखी 👁️दुनिया 🌎 का परिंदा 🐤,
शब्दों का झुरमुट 🙄लेकर….
कागज 📰 के बलबूते पे दुनिया 🌎 मैं बदलने हूं निकला….!!

Na main hun khwabon🤗 ka musafir,
Na andekhi 👁️duniya ka parinda 🐤,
Shabdo ka jhurmut🙄lekar….
Kagaj 📰 ke balboote pe duniya 🌎 main badalne hun nikla….!!




रास्तों 🗾से मंजिल ना पूछो,
मंजिलें राहों की नहीं 🤞 होती,
थाम कर हाथ 🖐️ उसका,
कर दे सफर बिस्मिल्लाह🤗,
कारवां तेरा हो 💫 जाएगा….!!

Raston 🗾se manjil na puchho,
Manjilen rahon ki nahi🤞hoti,
Tham kar hath🖐️uska,
Kar de safar bismillah 🤗,
Carvan tera ho jayega….!!




राहगीरों की भीड़ में 🤘 एक इंसान 👨टकराया मुझसे,
मैंने भी कहा देख 👀के चलो 🚶,
वो बोला 🙄बेशक अन्धा नहीं हूं मैं,
ना 🤞जाने फिर भी क्यूँ अब जमाने में कुछ दिखाई 👀नहीं देता… 😑

Rahgeero kee bheed me🤘ek insan 👨 takraya mujhse,
Mene bhi kaha dekh👀ke chalo🚶,
Vo bola🙄 beshak andha nahi hu main,
Na🤞jane fir bhi kyu ab jamane me kuch dikhai👀 nahi deta…!!




तब जाकर कही पैरों 👣 का ख्याल आया मुझको,
जब पत्थरों💧 ने लहू का रंग बतलाया मुझको😑…!!

Tab jakar kahi pairon👣ka khyal aaya mujhko,
Jab pattharon💧ne lahu ka rang batlaya mujhko😑…!!




कहते हैं जिन्दगी एक 👆 हसीन सफर है,
इस हसीन जिन्दगी 🤘 को जी लो यारों,
फिर कब 🙄 ये हसीन जिन्दगी 🤘 मिले किसे क्या पता…. 😑

Kahte hai jindagi ek 👆 haseen safar hai,
Is haseen jindagi 🤘 ko jee lo yaron,
Fir kab🙄ye haseen jindagi🤘 mile kise kya pata… 😑




कुछ बातें नजरअंदाज करती रही 😑,
कुछ बातें भूलती रही 😐,
हाँ… 😑
उसकी शादीशुदा जिंदगी अच्छी चल 🤘रही थी..!!

Kuch baten najarandaj karti rahi 😑,
Kuch baten bhulti rahi😐,
Ha… 😑
Uski shadishuda zindagi acchi chal🤘chal rahi thi.!!




जिन्दगी 🤘को रफू करने के लिए कहा किसी शायर ने
अब कौन बताए उन्हें🙄….
कि जिन्दगी 🤘 को रफू करने में कम्बख्त धागे ही खत्म 😴हो गए.!!

Jindagi 🤘ko rafu karne ke liye kaha kisi shayar ne
Ab kon bataye unhe🙄…
Ki jindagi🤘 ko rafu karne me
Kambakht dhage hi khatm😴 ho gaye.!!




शुक्रिया जिन्दगी 🤗….जीने का हुनर सिखा दिया 😊,
कैसे 🙄बदलते हैं लोग चंद कागज 📰 के टुकड़ों ने बता दिया,
अपनों परायों की पहचान को आसान 😘बना दिया,
शुक्रिया ऐ जिन्दगी 😎 जीने का हुनर सिखा दिया 😊.!!

Shukriya jindagi 🤗… Jeene ka hunar sikha diya😊,
Kese 🙄badalte hai log chand kagaj 📰 ke tukdon ne bata diya,
Apno parayo ki pahchan ko aasan 😘bana diya,
Shukriya aye jindagi 😎jeene ka hunar sikha diya 😊.!!




जिन्दगी 😎 बस इतनी सी क्यूँ है,
कि मंजिल के उस पार जाना है 😑
जन्नत 😍तो इस पार भी है,
और उस पार भी मंजिल के 🤗
सब आपके ऊपर है 🙄,
कि आपको घर 🏠 कहाँ बनाना है.!!

Jindagi 😎bas itni si kyu hai,
Ki manjil ke us par jana hai😑
Jannat 😍to is par bhi hai,
Or us par bhi manjil ke🤗
Sab apke upar hai🙄,
Ki apko ghar🏠kaha banana hai..!!




Read More


Also, Read 



1 thought on “Top 100 zindagi shayari in hindi”

Leave a Comment