corona virus shayari covid19 poetry status about life

corona virus shayari इसके साथ ही कुछ जरूरी सूचना है जो हमारे और हमारे परिवार के लिए बहुत ही जरूरी है।

कोरोना वायरस या कोविड-19 से आज पूरा देश लड़ रहा हैl मगर याद रहे हमें बीमारी से लड़ना है, बीमार से नहीं, उनसे भेदभाव ना करें, अपितु उनकी देखभाल करें और इस बीमारी से बचने के लिए जो हमारी ढाल है जैसे – डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस, सफाई कर्मचारी आदि को सम्मान दें l उन्हें पूरा सहयोग दें, इन योद्धाओं की करो देखभाल तो देश जीतेगा कोरोना से हर हाल।

अधिक जानकारी के लिए स्टेट हेल्प लाइन नंबर या किसी को खांसी जुकाम या साँस लेने में कोई तकलीफ हो तो सेंट्रल हेल्प लाइन नंबर 1075 पर कॉल करेंl

#भारत_सरकार_द्वारा_जनहित_में_जारी।

तो कैसे है आप लोग, हमें कॉमेंट्स कर के जरूर बताएं। साथ ही आज हम corona virus shayari आप लोगों के लिए लेकर आए, आप इन्हें अपने साथियों, रिश्तेदारों के साथ शेयर करना बिल्कुल ना भूलें।

corona virus shayari

जब चाहा तब खेला 😑,जब चाहा तब तोड़ा 💔,

जैसे मेरा प्यार कोई 🙄खिलौना हो गया हो…..

अब देख के नजरें 😒फेरती है…

जैसे इश्क़ नहीं कोरोना हो गया….


corona virus shayari in hindi

तस्वीरों में 🤘 बैठने से अच्छा है,

कुछ दिन घर 🏠 में बैठ जाना….

कफन से ज्यादा जरूरी है 🙄,

चेहरे पे मास्क 🎭 लगाना..!


जब दिया जला🔥एक, तो एक सौ तीस करोड़ दिये थे,

था संकल्प अलौकिक नव शक्ति का 🤗 सृजन किए थे,

ग़र जमात ने मिलकर 🙄इतना वार ना किया होता,

तो अब तक कोरोना 🐞का अंतिम संस्कार हुआ होता..!


एक मजबूरी है 🙄 जो महामारी से बड़ी होती है,

कोरोना 🐞 की बात तो हमें पता नहीं,

पर असली महामारी तो भुखमरी 😑होती है..!


समय 🕗 का परिवर्तन भी निराला है,

मौत 💤 का समय ही बदल डाला है,

ना 🤞 तुलसी, ना गंगाजल,

ना कोई विश्राम, ना 🤞 कोई राम राम,

अब सीधा पैकिंग😑और शमशान…


corona virus shayari

चले जाओ तुम कोरोना 🐞, हम ऐलान करते है,

तुम्हारी हर अपेक्षा का 🤗 हम सम्मान करते हैं,

तुम क्या मारोगे 😑देश के उन चंद लोगों को,

भूख से यहां हर रोज 😔बहुत इंसान मरते है..!


कुछ ऐसे 🙄कोरोना का दौर चला है,

आंखों के कुछ सपने अब 😑,

इंतजार बन कर 😴 रह गए,

हंसते खिल खिलाते चेहरे 🤐अब,

उदासी 😔 का शिकार होकर रह गए..!


corona virus shayari

कोरोना 🐞 वायरस ने किया संसार पर प्रहार है,

घर 🏠 घर में हो रहा संकटों का आघात है,

लड़ रहा कोई दो वक़्त की रोटी 🍪 के लिए,

तो कहीं 😔 बीमारी, तो कही भूख की मार है,

हर कोई बचता फिर रहा 🙄एक दूसरे से,

आया धरती पर कैसा 🙄 बिन लहरों का तूफान है…..


सूनसान सड़कें 😑वीरान चौराहा होगा,

वो इंसान चंद दिनों का 🙄मेहमान होगा,

क्या कभी सोचा 🤔था 2020 जैसा साल,

कोरोना 🐞 से परेशान होगा..!


घुस गयी है 🙄 बीमारी देश के नगरों में,

बीमार जो है, भर्ती है 😑अस्पतालों में,

लगता था 😴 चली जाएगी दो चार महीनों में,

लेकिन बीमारी अब जाएगी 😑सालों में..!


आज जब घर 🏠 से बाहर निकलने को होते हैं तैयार,

ना मिलती है बेल्ट 🙄, ना मिलता जूता 👟 मोजा,

ये कैसी गति है 🙄 और कैसा है ये रोना 😭,

फिर हम सब कहते हैं, हाय रे कोरोना 🐞 हाय रे कोरोना……


corona virus shayariबुरे से बुरे दौर 😴गुजरे हैं जिन्दगी के,

यह दौर भी गुजर जाएगा 😊,

बस थाम लो पांव को अपने घरों 🏠 में,

ये मंजर भी थम जाएगा…


corona virus shayari ka message

__कोरोना का संदेश ____

कोरोना 🐞 का संदेश, कोई रोना नहीं 😭,

कहता मैं चुपके से आया,

चुपके से चला जाऊंगा,

करोड़ों को मार कर, कुछ नया सिखा जाऊंगा,

अभिमान और अत्याचार मिटा दिया पल में,

पाओगे नयी जिन्दगी आने वाले कल में,

कमजोर मन का भार, अब ढोना नहीं,

कोरोना 🐞 का संदेश, कोई रोना नहीं. l

खो जाए साथी 🤝 सभी सहारे,

पर समय 🕗 को खोना नहीं, कोरोना का संदेश, कोई रोना 😭 नहीं l

#श्री कृष्ण पटेल


सिखा ना पाया सारा संसार,

वो मैंने तुम्हें सिखाया,

मुझे निजात पाने को,

सोशल डिस्टेंस दिलाया,


कैसे 🙄 आए लॉकडाउन के ये दिन,

बंध कर रह गये हम हम घर 🏠 में रात दिन,

कहीँ हो ना जाए हमें भी कोरोना 🐞,

सताता रहता है ये डर रात 🌛 दिन,

हाथ धोएं बार बार गिन गिन 🙄,

और पहनें मास्क 🎭 भिन्न भिन्न..!


corona virus shayari

ये कोरोना 🐞 है, या है कोई महाविनाश,

जहर बनती जा 🤘 रही है जिन्दगी तमाम,

बच के रहना ऐ – दुश्मन,

भारी ख़ुद 😴 को बचाने की,

अब बनती तुम्हारी अपनी जिम्मेदारी,

अब तो घबरा के 😑कहता हर इंसान,

बोलता फिरे है 🙄 बचा लो मेरे भगवान..!


बिन दवा 💊 के अभी जीवन चलाना है,

परिवार को और 🤗 खुद को बचाना है,

इस समाज को सुरक्षित 😎बनाना है,

हम सबको मास्क 🎭 लगाना है,

भारत में कोरोना 🐞 को हराना है,

अब ये बात सबको बताना है..!


corona virus shayari

वक़्त 🕗 ये मुसीबत का काट ले जैसे तैसे,

निकल ना घर 🏠, से ना मिल तू किसी से,

कोरोना 🐞 के जाते ही फिर जी लेना खुल के,

वक़्त 🕗 नहीं है ठीक, तू रह जरा संभल के..!


corona virus shayari poetry

मर रहे हैं कितने 😑और कितने मरेंगे,

इसी जद्दोजहद में 🤘 जिन्दगी की जंग जारी है,

इस महामारी का अंत 😊जरूर होगा,

इसी विश्वास के साथ 🤝 इससे बचने की तैयारी है,

पाई है अनेकों 😑कठिनाईयों से जीत,

कोरोना 🐞 अब तुम्हारी बारी है..!


कोरोना का साइड इफेक्ट्

कैसे 🙄 छुएं प्रियतम चेहरा तुम्हारा, हाथों 🤚 से अपने,

ख़ुद का ही चेहरा, छूने को अब तो 😑, लगे हैं तरस ने,

याद आती 😑 तुम्हारी तो, आँसू 💦 टपकते टप टप,

पोंछ पाता नहीं 🤞, सेकंड बीस लगते हैं 🤐, हाथ 🖐️ मसलने को,

ताकतता भी नहीं 🤞 आसमाँ देखकर, कोई गजब अब ना 🤞 हो,

छींक आयी अगर 😴, हर नजर घूम कर, लगेगी तकने 🙄,

तुम भी चार गज की दूरियां रख रही 😑, करके मुंह ☺️को उधर,

मैं भी नास्तिक होकर लगा 😁, राम राम जपने 🙏…!!


ऐसे जीना 😎 तो अब आदत सी बन गयी है,

दिल मे जैसे खैरियत सी 😑रह गयी है,

सेनेटाइजर यूँ पानी 💦 जैसे बह रही है,

अब वक़्त 🕗 के गुजरने के इंतजार में,

सांसें ही कम पड़ 😑रही हैं..!


दर्द है हवा में 😔माहौल मातमी है,

ऐसे में दहशत होना 😑लाज़मी है,

है हर शख्स सहमा डरा 😴हुआ,

यहाँ तो इंसानों से इंसान 🙄दूर हुआ..!


corona virus shayari

अपने मुँह की आलाइश😑,

बा- मुश्किल सहता 😔हूँ,

बर्दाश्त नहीं 🤞 होता,

फिर भी मास्क 🎭 पहनता हूँ….


आज गुजर 🙄रहे हैं हम उस मुकाम से,

जहाँ लोग छोड़ रहे साथ 🤝,

जरा से जुकाम से….


corona virus shayari

नफरत की आग 🔥 में जलता ये सारा संसार है,

अपनी खुशियों का दुश्मन ख़ुद 😴 इंसान है,

अचानक से आया कोरोना 🐞 का कैसा ये तूफान है,

जिसने इंसान और इंसान के बीच 🙄बनायी दूरी की ये दीवार है….


ये कोरोना 🐞 भी आज उसी तरह से बढ़ रहा है,

जिस तरह तुमने मुझसे 😑दूरियां बढ़ाई थी..!


कभी कभी कुछ 🙄बातों से अनजान रहना भी अच्छा होता है..

कभी कभी 🙄 कुछ जान लेना भी बहुत तकलीफ देता है….


बहुत फक्र था 😴 मुझे अपने चाहने वालों पर…….

फिर कोरोना 🐞 ने मुझे सबकी असलियत से रूबरू करा दिया…..


बड़ी अजीब सी कशिश 🙄है उसके नाम पे,

जब भी सुनता है पलट के जरूर 😑देखता है,

उसकी एक 👆 झलक से ना जाने कितनों ने जान गवां दि,

क्या 🤔सोच रहे हो आप..??

मैं तो कोरोना 🐞 के बारे में बोल रहा हूँ…!!


corona virus poetry

आज समय 🕗 का दस्तूर कुछ यूं है,

कोरोना 🐞 ने करीबियों की तस्वीर दिखाई है…….

आज समय 🕗 का दस्तूर कुछ यूं है,

कोरोना 🐞 ने करीबियों की तस्वीर दिखाई है…….

जिनसे हंसते 😃 हुए मिलने का नाता सा था,

उन्ही ने वक़्त 🕗 में पीठ दिखाई है,

ऐ कोरोना समझा तुझे कयामत 🤐था,

पर तूने जिंदगी 😑 की तालीम सिखाई है..!


corona virus poetry

ये भारी महामारी में 🤘 जिस तरह हमारा exam लिया जा रहा है,

सब कुछ याद रखा जाएगा 😑,

आज लेना, कल लेंगे बोल कर जो मानसिक तनाव दिया 😔जा रहा है,

सब याद 🙄 रखा जाएगा ये जो बीमारी बता कर 🙏 पैसे कमाए जा रहे हैं,

सब कुछ याद 🙄 रखा जाएगा,

आने वाले विधानसभा और 🤗 लोकसभा में,

सब कुछ याद रखा 😑जाएगा..!


_____कोरोना 🐞 महामारी _____

हर तरफ बीमारी 😔छाई है

कहीँ हल्की🙄 कहीं भारी है l

अब योगा करने की 🙆बारी है,

नहीं 🤞 तो फैलने वाली महामारी है l

गलत सोच 🤔 तुम्हारी नहीं हमारी है,

जो तुमसे लगाई 😕यारी है l

अगर पूजे जाने 🤗वाली माता है,

तो ‘रेप’ सहने वाली क्यों 🙄 नारी है.!


corona virus shayari

मैंने अपने हाथों 🤚 से एक हाथ फिसलते 😑देखा है,

मैंने तबाही का 🙄वो मंजर भी बड़ी करीब से देखा 👀 है,

हाँ मैंने 2020 भी देखा है..!


_____corona ek virus _____

इक वायरस 😔 ने सबको परेशान किया है,

घर 🏠 में जीना हराम किया है,

जीते जी हमको मार 😞 दिया है,

घर 🏠 से हमको ना निकलने दिया है,

ना भीतर चैन 🙄से रहने दिया है,

घर 🏠 बाहर की चक्की मे हमें पीस दिया है,

इक वायरस 😔 ने जीना हराम किया है…..


corona virus shayari

ना शहर से बाहर 😔जाने दिया है,

ना घर 🏠 वालों को आने दिया है,

कैदी की जिन्दगी 🤘 में हमें ढाल दिया है,

इक वायरस 😔 ने जीना हराम किया है…..


देखो कैसे 🙄आयी बीमारी,

जो लेकर आई एक 👆 बड़ी महामारी,

ट्रेन, स्कूल, मंदिर सब हैं 🤐 बंद,

चीन से 🙄 निकला कैसा ये वायरस,

जिसे देख पूरी दुनिया 🌎 रह गयी दंग l


corona virus shayari

देखो कैसी आयी 🙄बीमारी,

इसने ली लाखों 😔की जान,

कितनों की😑 हुई सूनी मांग,

ना जाने कितनों के घर 🏠 हुए वीरान,

डॉक्टर, साइंटिस्ट, सब है 😴परेशान l


corona virus poetry

देखो कैसी आयी 🙄 बीमारी,

आओ 🤗 करें मिल कर ये प्रण,

आओ करे ये महामारी 😊दूर,

करते चलो 🚶 अपना कर्तव्य,

ये बीमारी 😔 बड़ी है खराब,

इसका है बस एक 👆 इलाज,

मास्क 🎭 और सेनेटाइजर का निरंतर करो प्रयोग,

सोशल डिस्टेंसिंग 🤗का भी रखे ध्यान,

जिसने भी किया 🙄इनका उपयोग,

सुरक्षित हो गया उसका 👪 परिवार..!


ये तो वक़्त 🕗 की नजाकत है,

दुनिया 🌎 में आई जो, ये छोटी सी आफत है,

ये बुरा वक़्त 🕗 है, एक दिन गुजर जाएगा,

फिर से दुनिया 🌎 में हर चेहरा मुस्कुरायेगा😊..!


कहते हैं वक़्त 🕗 से बड़ा कोई शिक्षक नहीं,

और 2020 तो हेडमास्टर 😎बन के आया है….


कभी कभी 🙄 दिल को भी सेनेटाइज कर लेना चाहिए साहब,

क्यों कि नफरत के वायरस 😔 यही से जन्म लेते हैं..!


तेरे इश्क़ 😘 में फना हुए,

सब कुछ दांव 🙄पर लगा कर,

और तेरी 😟 बेवफ़ाई ने कायर बना दिया,

और कोरोना 🐞 में धंधे क्या बंद हुए,

निठल्ले पड़े रहे 🤐 और शायर बना दिया..!


मुश्किलों को हंस 😊 कर सहा है मैंने,

दुख दर्द 😑 ख़ुद में जिया है मैंने,

हार मान लूँ आसानी से 🙄 वो नहीं हूं मैं,

जिन्दगी 🤘 को बे तककल्लूफ जिया है मैंने,

मुश्किलें तमाम 😑आयी जिन्दगी के सफर में,

हर मुश्किल को मुस्कुराकर 😊हल किया है मैंने,

अपने डर को 🤐अब हरा दिया है मैंने,

जिन्दगी जीना 😎 अब खुद को सिखा दिया है मैंने..!


corona virus poetry

धूप 🌞 खिलती है सुबह तब सब जागते है,

देखते है घड़ी ⌚ को और बस भागते है,

ना ठीक से पीते हैं 🤐 और ना खाते हैं,

जल्दी से घर 🏠 से बाहर निकल जाते हैं,

मुँह को ढक के चलना 🤦आम हो गया,

यह भी एक जरूरी काम 😑हो गया,

स्वास्थ्य को ना 🤞 पहुचें कोई हानि,

रखनी पड़ती है 😴सावधानी,

वापस थक के आते हैं शाम 🌃 को,

तरस जाते हैँ 🙄आराम को,

काम कैसे 🙄 चलेगा भला डरने से,

अगर 😴 बचना ही चाहते हैं मरने से,

हिम्मत से काम लें 😑सब ठीक हो जाएगा,

इस समस्या का 🤗 हल भी निकल जाएगा,

दुख 😔 के ये पल जल्द ही बीतेंगे,

यह है कोई लड़ाई 🤗तो हम जीतेंगे..!


थोड़ा सब्र😑 रख बंदे,

सब ठीक हो जाएगा 😊,

ऊपर वाले पर 😘 विश्वास रख,

आने वाला समय 🕗 तुम्हारा हो जाएगा..!


कोई ऐसी रात 🌛 नहीं आती,

जिस पल हमें शायरी नहीं 🤞 सताती,


मोबाइल 📱 बिन जिन्दगी कट नहीं पाती,

तुम्हारी हर पल याद 😴सताती,


तुम्हारी मीठी 😋 आवाज वो काम कर जाती,

जो कोरोना 🐞 की वैक्सीन भी ना कर पाती,


मन करता है तुम पर किताब 📒 लिख दूँ,

पर मेरी ये कलम ✏️ इतना बोझ सह ना पाती l


corona virus story

_____कोरोना कहानी ____

चलो तुमको सुनाऊँ 👂2020 की कहानी,

Emptiness की जुबानी….

कैसे 🙄 कोरोना कर रहा सारी दुनिया में अपनी मनमानी…

चाहे राजा 👑हो या रंक,

घर 🏠 में बैठे बजा रहे है शंख…..

कोई कुछ कर ना 🤞पाता,

कोरोना 🐞 के आगे पस्त होकर….

घर 🏠 में ही सो जाता…

सब काम 😑 हो रहे हैं ठप,

रोजगार बेरोजगार एक 👆 जैसा

घर 🏠में बैठ कर समय बिताता….

धीरे धीरे समय 🕗 बीत रहा पर अब भी कोरोना

के आगे सब सर झुका रहा है…


कट कॉपी और पेस्ट 🙄,

इस ‘कोरोना 🐞 वायरस’ को ना समझो,

कुछ महीने का गेस्ट 😑….


बेशक हम 😎 ही सबसे आगे होंगे

वैसे भी बचा ही 🙄कौन है,

सिर्फ महा शक्ति अमेरिका 😏ही हम से आगे है,

हम भी देखते हैं 🤐 कि वह कब तक अपनी बढ़त बरकरार रख पाता है..!


किसे पता था 😴 एक दिन,

हर इंसान 👨 पर्दादारी करेगा,

दूसरे से मिलने मिलाने से 🙄 बचेगा,

गैर की क्या बात😕 कीजै,

इंसान अपने अपनों से 🙄 डरेगा..!


____कोरोना एक जंग____

कोरोना 🐞 एक ऐसी जंग है…

जिसकी चपेट में आज पूरा विश्व 🌎 है,

इस जंग में लाखों 😔 का रोना देखा है,

और लाखों 😔 उम्मीदों को खोते देखा है,

लाचार मजदूरों को रोते 😭देखा है,

और लाखों को अपने 👪 परिवार से बिछड़ते देखा 👀 है l


कोरोना 🐞 एक ऐसी जंग है….

जिसने हमें अपनों 😌से ही,

दो ✌️ गज की दूरी पर रहना सिखा दिया है,

इस जंग में गरीबों को अस्पतालों में 🤘लुटते देखा है,

लाखों को एक रोटी 🍪 के लिए तरसते देखा है l


corona virus shayari

कोरोना 🐞 का कोई इलाज नहीं,

और इश्क़ ❣️के लिए कोई अल्फाज़ नहीं,

दोनों कुछ 🙄ऐसे हैं,

होते वक़्त 🕗 अहसास नहीं,

और होने के बाद साँस 😑 नहीं..!


corona virus shayari

लोगों की🙄 लापरवाही संगत का, मुझ पर भी अब असर😑हो रहा है,

कोरोना 🐞 मुझ पर भी अब, बे असर हो रहा है..!


corona virus shayari

हाथ मिलाने 👏गले लगाने वाली यारी मत करना,

हर 20 मिनट में हाथ 🖐️ धोना बीमारी मत करना,

डॉक्टर, 🚔 पुलिस, 👷 कर्मचारी सब अपने काम कर रहे हैं,

इस देश के लिए ♥️ आज तुम कोई मक्कारी मत करना l


कोरोना 🐞 की जंग से भारत निश्चय ही जीतेगा,

होगा वही अभिशप्त, जो घर 🏠 की रेखा को लांघेगा,

हे भारत के नौजवानों, घर 🏠 पर तुमको रहना है,

हैं सुरक्षित वो सभी 🤗जो इस संदेश को अपनाएगा l


हिंदू- मुस्लिम नहीं 🤞 रहेंगे, बस भारतीय रह जाएगा,

निकलेगा सुरज 🌞आशा का, यही संदेश लाएगा,

है नमन 🙏 उस दरिद्र को जो भूख में भी साथ 🤝 था,

विजयी गाथा सदा हमारी 😘 विश्व 🌎 समूचा गायेगा l


corona virus shayari

ये जो खौफ की मौत 🙄मर रहे हो ना,

नतीजा है बेजुबानों😑की खौफनाक मौतों का,

जिनका तुम तड़पा तड़पा 😔कर कत्ल करते हो,

जरा उनकी जिंदगी 😑 की तड़प तो महसूस कर लो,

क्या 🙄होता है खौफ में जीना मालूम तो कर लो l


सज संवर कर जाऊँ 🙄कहीं दिल करता है,

नाशपिटे कोरोना 🐞 तू क्यों नहीं मरता है l


आजू बाजू कोई 😴छींक दे तो दिल 💕 डरता है,

तुझको कच्चा खा 😬जाने का दिल करता है, l


रोज रोज बेरोजगारी का 📊 ग्राफ़ बढ़ता है,

एक तू है कोरोना 🐞 जो नित सवेरे बढ़ता है l


राजनीति और नेताओं जैसे 😃गिर गयी जी डी पी,

कब तक तेरा रहेगा रोना 😭 करेंगे हम पीं पीं पीं l


बेशरम मर गया है क्या तेरे आँख का पानी 💦,

फिटे मुँह जा यहां से 😃मर गयी तेरी दादी नानी l


corona virus shayari

काल है यह कोरोना 🐞 या कोई महाकाल है,

लगता है जैसे खुदा का 😑रचा महाजाल है,

संसार में 🤘 आज घबराने की जरूरत नहीं,

फकीरा आज यहां हर कोई 😔बेहाल है l


corona virus shayari

ना रोने 😭की इजाजत…

ना हंसने 😑की वजह है….

कुछ 🙄समझ नहीं आ रहा 2020 में…

आप ही बताइए….

यह क्या 🙄कोई सजा है l


पैरों 👣 के छाले फिर भी कच्चे थे,

पर लॉकडाउन में 🤞 मरने वाले,

मेरे या देश के बच्चे 👶 थे l


सरकार के 👂 कान तो शुरू से बहरे थे,

पर घाव मेरे 😔आज भी गहरे थे l


अफवाह तो उड़ी थी 😑अच्छे दिन आएँगे,

पर 🙄क्या पता था,

साथ 🤝 में चलने वाले भाई ही दुनिया 🌎 से चले जाएंगे l


corona virus shayari

मौत 💤 का data नहीं था,

पर वोट आने पर 😑नोट और दारू 🍻 बांटना सही था l


पुराना भारत अच्छा 😊था,

लंगड़ा के चलता 🏃 पर ना कच्चा था,

देशवासियों कुछ 🙄 तो शर्म करो,

मरने वाला मेरा नहीं 😔तुम्हारा भी बच्चा था l


corona virus shayari

कोरोना 🐞 फैलाव तो और तेजी दिखाएगा,

म्रत्यु दर बढ़ता 😑जाएगा,

फिर भी ना 🤞 कोई सोशल डिस्टेंसिंग निभाएगा,

ना मास्क 🎭 पहनकर अपनी सुरक्षा बढ़ाएगा,

विपक्ष दलील🙄 उठाएगा,

पर मीडिया तो टी आर पी वाली 😏न्यूज दिखाएगा l


corona virus shayari

जब भी जाती है 🙄 नजर सुबह की रोशनी 💫पर,

तभी मन में 🤘 जगती है यही उम्मीद,

कि एक 👆 दिन होगी रोशनी 💫 की अंधकार पर जीत l


corona virus shayari

ना जाने 🙄कितने अपनों ने दम तोड़ दिया,

ना जाने कितनों ने अपना घर 🏠 छोड़ दिया,

ना जाने 🙄कितने अपने अस्पताल में है,

ना जाने कितनों का ना 🤞 hua अंतिम संस्कार,

ना जाने कितने 😑 अपनों की नौकरी चली गयी,

ना जाने कितनों ने सड़कों पर 😔दम तोड़ दिए,

जो कुछ हुआ उसे 🙄भूला नहीं जा सकता,

अन लॉक होने के बाद 🙄ज्यादा लापरवाही हम कर नहीं 🤞 सकते,

अन लॉक हुआ है….

कोरोना 🐞 का खतरा अभी गया नहीं है l


corona virus shayari

घायल भारत चीख 😑रहा है,

आग 🔥 लगी है सीने में,

हुक्मरान सब व्यस्त 🤐हैं,

खून गरीबों का 😴पीने में,

ना बावरी ना 🤞 राम मंदिर का पक्ष मैं लाया हूँ,

घायल भारत चीख 😑 रहा है,

चीख सुनाने आया हूँ l


Corona virus poetry

जिन्दगी समझाती है 🙄 ठहर अपने मुकाम पर,

मौत हर रोज दरवाजे पर 😑दस्तक देती है,

जिन्दगी 🤘 कहती है मैं अभी जीना चाहती हूं,

लेकिन वही जिन्दगी 🤘 कर्म भूमि पर,

रोज मौत 💤 के करीब खड़ी है,

बहुत महीनों से 🙄 यही जंग जारी है,

ना 🤞 जीत किसकी होगी??

दिन महीने गुजर 😴गए,

अब साल भी गुजर जाएगा 😊,

इसी तरह जिन्दगी 😎को,

रोज मौत का बुलावा आएगा 🙄,

बिगड़े हैं हालात 😔और बढ़े है केस,

ना 🤞 जाने कोरोना का अंत कब आएगा,

इसी कश्मकश में 🤞 मेरी जिंदगी,

हर रोज 😔 मौत से लड़ती है l


Coron avirus shayari about life

अब समझने 🤗 लगा आँखों की अदाएं भी जमाना,

मुँह ढका हो चाहे 🤐कपड़े से,

आँखों से हँसता है 😊जमाना


जब घर 🏠 टूटने को था,

जिस्म भी बिखरने 😳लगा था,

मानों लाखों 😔 दुख और सितम हम ने थे सहे,

अब वक़्त 🕗 कमाने का था,

तो हुकुम आया 🙄जो जहां हो वहीं रहो l


corona virus shayari

जब घर 🏠 टूटने को था,

जिस्म भी बिखरने 😳लगा था,

मानों लाखों 😔 दुख और सितम हम ने थे सहे,

अब वक़्त 🕗 कमाने का था,

तो हुकुम आया 🙄जो जहां हो वहीं रहो l

इसके साथ ही आप इन्हें जरूर पढ़े

Leave a Comment